Gender in Hindi | Gender Kya Hota Hain?

किसी भी भाषा को अच्छे से सिखाने के लिए उस भाषा का व्याकरण का ज्ञान होना बहुत जरुरी होता है. बिना इस ज्ञान के हम उस विशेष भाषा को सही – सही लिख नही सकेंगे.

इंग्लिश ग्रामर में 8 पार्ट्स ऑफ़ स्पीच होते है जैसे – Noun, Pronoun, Verb, Adverb, Preposition, Adjective, Conjunction और Interjection.

सही और सठिक  इंग्लिश लिखने के लिए पार्ट्स ऑफ़ स्पीच का पता होना जरुरी है. इसके अलावा बहुत से और बातों को ध्यान में रखना पड़ता है.

एक- एक कर के सब सीखेंगे लेकिन आज हम Gender in Hindi के बारे डिटेल्स में जानेंगे. जेंडर क्या होता है और उसके प्रकार उदहारण सहित देखेंगे और Masculine Gender को Feminine Gender में कैसे बदले यह भी सिखिएंगे .

जेंडर (Gender) किसे कहते है ?

जिस से किसी के पुरुष जाति और स्त्री जाति का होने का बोध होता है, उसे लिंग (Gender) कहते है. इसमे केवल  कोई व्यक्ति ही नही होता बल्कि पशु, पक्षी और वस्तुए भी शामिल होते है.

जैसे : राम आज बाहर गया है, तुम्हारी घड़ी कहा है ?, माँ कपडे धो रही है इत्यादि. 

जेंडर कितने प्रकार के होते है ?

English Grammer में Gender (लिंग) चार प्रकार के होते है और हिंदी में लिंग दो प्रकार के होते है. वे है 1) पुलिंग और 2) स्त्रीलिंग.

  1. Masculine Gender ( पुलिंग )
  2. Feminine Gender ( स्त्रीलिंग )
  3. Common Gender ( उभयलिंग )
  4. Neuter Gender (नपुंसक लिंग )

Masculine Gender  ( पुलिंग )

जिस शब्द से किसी पुरुष जाति का होने का बोध होता है, उसे Masculine Gender ( पुलिंग ) कहते हैं. पुलिंग के कुछ उदहारण है  : – Boy, Ram, Shyam, Man इत्यादि.

Feminine Gender ( स्त्रीलिंग )

जिस शब्द से किसी स्त्री जाति का होने का बोध होता है , उसे Feminine Gender ( स्त्रीलिंग ) कहते है. स्त्रीलिंग के कुछ उदहारण है :- Radha, Girl, Women,Geeta इत्यादि.

Common Gender ( उभयलिंग )

जिस शब्द से किसी स्त्री और पुरुष दोनों का बोध होता है, उसे उभयलिंग कहते है. उभयलिंग के उदहारण है :- जैसे की Student, Friend,Baby, Teacher इत्यादि.

Neuter Gender (नपुंसक लिंग )

जिस शब्द से किसी निर्जीव वस्तु या पदार्थ का बोध होता है, उसे Neuter Gender (नपुंसक लिंग ) कहते है. Neuter शब्द का अर्थ होता है Neither . अर्थात न तो पुरुष और न  स्त्री . नपुंसक लिंग के उदहारण है :- Mobile, Laptop, TV, Book इत्यादि .

पुलिंग से स्त्रीलिंग बनाने के नियम

पुलिंग से स्त्रीलिंग बनाने के नियम निम्नलिखित है. 

Rule No.01 – दुसरे शब्द का व्यवहार कर (By using entirely different word)

MasculineFeminine
ManWoman
SonDaughter
HusbandWife
LordLady
SirMadam
BoyGirl
BrotherSister
KingQueen
FatherMother
UncleAunty

Rule No.02 – कुछ शब्दों के साथ “ess” जोड़ कर Masculine से Feminine बनाते है .

MasculineFeminine
AuthorAuthoress
BaronBaroness
CountCountess
GiantGiantess
GodGoddess
HeirHeiress
HostHostess
JewJewess
LionLioness
MayorMayoress
PatronPatroness
PoetPoetess
PriestPriestess
PrincePrincess
StewardStewardess

Rule No.03 – शब्द में “-ine”, “trix”, “-a” जोड़कर पुलिंग से स्त्रीलिंग बनाते है

MasculineFeminine
HeroHeroine
CzarCzarina
AlexanderAlexandrina
CharlesCharlotte
JosephJosephine

मैंने आपको जेंडर किसे कहते है और जेंडर कितने प्रकार के होते है ? यह बताया है। मैंने कोशिश की है की आपको संक्षेप में सठिक जानकारी मिले। धीरे धीरे इसमें और भी जानकारियां जुड़ती जाएँगी।

Leave a Comment